Chota Jadugar Questions & Answers छोटा जादूगर प्रश्न और उत्तर

This article will share Chota Jadugar Questions & Answers छोटा जादूगर प्रश्न और उत्तर

पिछले पोस्टों में मैंने Rahim Ke Dohe और Pandubba Jahaj के questions & answers शेयर किए हैं तो आप उसे भी चेक कर सकते हैं।

Chota Jadugar Questions & Answers छोटा जादूगर प्रश्न और उत्तर 

शब्दार्थ

  • कार्निवाल – शहरों में लगने वाला मेला
  • आकृष्ट – आकर्षित
  • उपेक्षा – निरादर
  • पथ्य – रोगी के अनुकूल भोजन
  • कमलिनी – कमल के फूल
  • जीविका – रोजी-रोटी का साधन
  • अस्ताचलगामी सूर्य – छिपता हुआ सूरज
  • स्फूर्तिमान – फुर्तीला
  • अविचल – स्थिर
  • स्तब्ध – हैरान
  • बटोरना – इकट्ठा करना
  • विनोद – मजाक 
  • मैला – गंदा
  • धैर्य – सहनशीलता
  • निर्मल – स्वच्छ
  • तिरस्कार – उपेक्षा
  • समग्र – पूरा
  • स्वीकार – मंजूर
  • पथ – रास्ता
  • कारावास – बंदीगृह
  • निकेतन – आवास

प्रश्न 1: लेखक ने छोटे जादूगर की झोंपड़ी में क्या देखा?

उत्तर: लेखक ने छोटे जादूगर की झोंपड़ी में एक स्त्री को देखा। वह चिथड़ों से लदी हुई काँप रही थी। उसे देखकर यह लग रहा था कि उसकी तबीयत बहुत खराब है। छोटा जादूगर ने उसके ऊपर कंबल डालकर उसके शरीर से चिपटते हुए कहा “माँ”। लेखक की आँखों से आँसू निकल पड़े।

प्रश्न 2: कहानी के आधार पर छोटे जादूगर की दशा का वर्णन कीजिए।

उत्तर: छोटा जादूगर एक तेरह-चौदह वर्ष का बालक था। उसकी दशा बहुत दयनीय थी। उसके परिवार में माता-पिता थे। पिता तो देश की खातिर जेल में चले गए थे। उसकी माँ बीमार रहती थी। पैसे न होने के कारण अस्पताल वालों ने उसे निकाल दिया था। वह छोटा बालक सड़क के किनारे खेल-तमाशा दिखाया करता था। अपनी माँ की इतनी सेवा करने के बावजूद अंत में उसकी माँ का देहांत हो गया और वह इस संसार में अकेला रह गया।

प्रश्न 3: छोटे जादूगर का खेल उस दिन क्यों नहीं जमा ?

उत्तर: छोटे जादूगर का खेल उस दिन इसलिए नहीं जमा क्योंकि उसे अपनी बीमार माँ की बीमारी की दशा सताये जा रही थी। साथ ही उसे माँ के कहे शब्द बार-बार उसके मस्तिष्क में काँध रहे थे कि वह उस दिन जल्दी लौटकर आ जाए, क्योंकि उनकी घड़ी समीप ही थी।

प्रश्न 4: बालक का नाम छोटा जादूगर क्यों पड़ा?

उत्तर: बालक की उम्र तेरह-चौदह वर्ष की रही होगी। वह अपनी जीविका के लिए ताश, गुड़िया, बन्दर आदि के खेल दिखाता था। इन खेलों से लोगों का मनोरंजन करता था। इसलिए उसका नाम छोटा जादूगर पड़ गया।

प्रश्न 5: छोटे जादूगर के किन-किन गुणों ने तुम्हें प्रभावित किया ?

उत्तर: छोटा जादूगर दुःख और पीड़ा की अवस्था में धीरज धरे हुआ था। वह अपनी माँ की बीमारी की दवाई के लिए खेल दिखाता है। वह किसी के सामने भीख के लिए हाथ नहीं बढ़ाता है। उसे परिश्रम करने में विश्वास है। वह बोलचाल में चतुर है, साहसी है। वह अभिवादनशील है।

प्रश्न 6: ‘और तुम तमाशा देख रहे हो?’ लेखक द्वारा ऐसा कहने पर बालक ने क्या उत्तर दिया?

उत्तर: बालक तिरस्कार से हँसते हुए कहने लगा, तमाशा देखने नहीं दिखाने निकला हूँ। कुछ पैसे ले जाऊँगा तो माँ को भोजन दूँगा। मुझे शरबत न पिलाकर मेरा खेल देखकर कुछ पैसे दिए होते तो अधिक प्रसन्नता होती।

प्रश्न 7: लेखक स्तब्ध क्यों रह गए?

उत्तर: लेखक अपने ड्राइवर और छोटे जादूगर के साथ उसकी झोपडी के पास पहुँचे। छोटा जादूगर दौड़कर झोपड़ी में माँ-माँ पुकारते हुए घुसा। लेखक भी उसके पीछे-पीछे घुसे। उसकी माँ के मुँह से ‘बे’ शब्द निकल रहा था। उसके दुर्बल हाथ उठकर गिर गए। जादूगर उससे लिपटकर रो रहा था। यह सब देखकर लेखक स्तब्ध रह गए।

तो ये थे Chota Jadugar Questions & Answers छोटा जादूगर प्रश्न और उत्तर।