Swami Vivekanand Questions & Answers स्वामी विवेकानंद प्रश्न और उत्तर

This article will share Swami Vivekanand Questions & Answers स्वामी विवेकानंद प्रश्न और उत्तर।

पिछले पोस्टों में मैंने Andaman Nicobar और Tum Hamari Chotiyon Ki Barf Ko Yun Mat Kuredo के Questions & Answers शेयर किये हैं तो आप उसे भी चेक कर सकते हैं।

Swami Vivekanand Questions & Answers स्वामी विवेकानंद प्रश्न और उत्तर

शब्दार्थ

  • अशिक्षा – शिक्षा की कमी 
  • धार्मिक बैठक – धार्मिक सभा 
  • पिछड़ापन – पीछे रह जाना 
  • संस्कृति – परंपरा 

प्रश्न 1: भुवनेश्वरी कौन थीं?

उत्तर: भुवनेश्वरी नरेंद्र की माँ थी।

प्रश्न 2: नरेंद्र बचपन में किन विषयों में अव्वल थे?

उत्तर: नरेंद्र बचपन में संगीत. पढ़ाई और  योग विषयों में अव्वल थे।

प्रश्न 3: नरेंद्र ने किसके लिए अपना जीवन अर्पित कर दिया?

उत्तर: नरेंद्र ने मानवता की सेवा के लिए अपना जीवन अर्पित कर दिया।

प्रश्न 4: अमरीका से लौटने के बाद विवेकानंद जी का आदर-सत्कार किस महल में हुआ?

उत्तर: अमरीका से लौटने के बाद विवेकानंद जी का आदर-सत्कार मैसूर के राजमहल में हुआ।

प्रश्न 5: विवेकानंद ने स्वामी रामकृष्ण जी से दीक्षा क्यों ली?

उत्तर: स्वामी रामकृष्ण दक्षिणेश्वर के काली मंदिर में रहते थे। नरेंद्र ने स्वामी रामकृष्ण से इस संसार और मनुष्य के जीवन से जुड़े कई प्रश्न पूछे। स्वामी रामकृष्ण ने उनके सारे प्रश्नों के उत्तर दिए। विवेकानंद जी को अपने प्रश्नों के सही उत्तर पाकर अच्छा लगा। इसके बाद उन्होंने स्वामी रामकृष्ण जी से दीक्षा ले ली।

Swami Vivekanand Questions & Answers स्वामी विवेकानंद प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 6: गाँवों की गरीबी दूर करने के लिए विवेकानंद जी किस निर्णय पर पहुँचे?

उत्तर: विवेकानंद जी को लगा कि सबसे पहले गरीब लोगों को रोटी मिलनी चाहिए। रोटी के लिए काम होना चाहिए। काम करने के लिए ज्ञान होना चाहिए। ज्ञान के लिए पढ़ाई-लिखाई करनी चाहिए। इसी क्रम में वह इस निर्णय पर पहुँचे कि गाँव में सभी के लिए स्कूल होना चाहिए ताकि सभी बच्चे पढ़ाई कर सकें।

प्रश्न 7: अमरीका और यूरोप के लोगों के मन में भारतीयों के प्रति सम्मान क्यों पैदा हुआ?

उत्तर: सन १८९३ में स्वामी विवेकानंद अमरीका गए। वहाँ शिकागो पहुँच कर उन्होंने धार्मिक बैठक में भारत के धर्म, दर्शन, संस्कृति पर तर्कसंगत और बेबाक भाषण दिया। उनके भाषण से अमरीका और यूरोप के लोगों के मन में भारतीयों के प्रति सम्मान पैदा हुआ।

प्रश्न 8: विवेकानंद एक बार जब भारत भ्रमण के लिए गए तब क्या हुआ?

उत्तर: विवेकानंद एक बार जब भारत भ्रमण पर गए तब गाँवों में जाकर उन्होंने देखा कि वहाँ बड़ी गरीबी है। गाँवों के लोग पिछड़े हुए हैं। उन्हें अपनी माँ से दयालुता का गुण मिला था। उन्हें इन गरीब और पिछड़े लोगों को देखकर दया आई।

प्रश्न 9: स्वामी विवेकानंद जी ने अमेरिका जाकर कौन-सा कार्य किया?

उत्तर: सन १८९३ में स्वामी विवेकानंद अमरीका गए। वहाँ शिकागो पहुँच कर उन्होंने धार्मिक बैठक में भारत के धर्म, दर्शन, संस्कृति पर तर्कसंगत और बेबाक भाषण दिया। उनके भाषण से अमरीका और यूरोप के लोगों के मन में भारतीयों के प्रति सम्मान पैदा हुआ। इसके बाद विवेकानंद जी विश्व में प्रसिद्ध हो गए। जब वह पानी के जहाज से भारत लौटे तब उनका जोरदार स्वागत किया गया।

Swami Vivekanand Questions & Answers स्वामी विवेकानंद प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 10: भारत लौटने पर स्वामी विवेकानंद का जोरदार स्वागत क्यों किया गया? लगभग 100 शब्दों में उत्तर लिखिए।

उत्तर: सन १८९३ में स्वामी विवेकानंद अमरीका गए। वहाँ शिकागो पहुँच कर उन्होंने धार्मिक बैठक में भारत के धर्म, दर्शन, संस्कृति पर तर्कसंगत और बेबाक भाषण दिया। उनके भाषण से अमरीका और यूरोप के लोगों के मन में भारतीयों के प्रति सम्मान पैदा हुआ। इसके बाद विवेकानंद जी विश्व में प्रसिद्ध हो गए। जब वह पानी के जहाज से भारत लौटे तब उनका जोरदार स्वागत किया गया। अमेरिका से  लौटने के बाद उन्हें मैसूर के राजा ने आमंत्रित किया। राजा के आमंत्रण पर वे मैसूर गए। शिकागो में दिए गए उनके भाषण से  प्रभावित होकर राजा ने राजमहल में उनका बहुत आदर-सत्कार किया। उनके सम्मान में पूरे नगर में एक शोभा यात्रा निकाली। इस शोभा यात्रा में विवेकानंद जी को फूलों से सजी एक पालकी में बिठाया गया और उस पालकी को पूरे नगर में बैंड-बाजे के साथ घुमाया गया। जब विवेकानंद जी की पालकी नगर के मुख्य भाग में पहुँची, तब राजा ने विवेकानंद जी की पालकी को स्वयं कंधा दिया।

प्रश्न 11: स्वामी विवेकानंद की शिक्षा के बारे में संक्षेप में लिखिए।

उत्तर: स्वामी विवेकानंद जी के बचपन का नाम नरेंद्र था। वे बचपन में पढ़ाई, संगीत और योग में अव्वल थे। उन्होंने कलकत्ता से उच्च शिक्षा ली थी। उच्च शिक्षा पाने के बाद वह कई विषयों के जानकार बन गए। उन्हें यूरोप और अमेरिका के इतिहास की भी अच्छी जानकारी थी। भारत के धर्म, इतिहास और संस्कृति की जानकारी तो उन्हें स्कूली दिनों में ही हो गई थी।

प्रश्न 12: स्वामी विवेकानंद जी ने गाँव के लोगों की भलाई के लिए धर्म और वेद की शिक्षा को आवश्यक क्यों माना?

उत्तर: स्वामी विवेकानंद जी ने गाँव के लोगों की भलाई के लिए दिन-रात एक कर दिया। उन्होंने सोचा कि गाँव के लोगों को धर्म और वेद की शिक्षा को दैनिक जीवन में उपयोग करने की विधि सिखानी चाहिए। ऐसा करने से उनका पुस्तकीय ज्ञान जीवन के लिए लाभदायक होगा। उन्होंने देश की प्रगति के लिए शिक्षा को आवश्यक माना।

प्रश्न 13: सही विकल्प चुनिए:

(क) स्वामी विवेकानंद जी ने किसके लिए दिन-रात एक कर दिया?

i. रुपए-पैसे कमाने के लिए
ii. लोगों की भलाई के लिए

(ख) स्वामी रामकृष्ण जी ने नरेंद्र को अपना शिष्य क्यों मान लिया?

i. उनकी जिज्ञासा को देखकर
ii. उनकी तीव्र बुद्धि को देखकर 

(ग) स्वामी विवेकानंद जी ने देश की प्रगति के लिए किसे आवश्यक माना?

i. वाहनों को 
ii. शिक्षा को  

(घ) जब नरेंद्र के गुरु रामकृष्ण जी का स्वास्थ्य ख़राब हुआ, तब नरेंद्र ने क्या किया?

i. उनकी बहुत सेवा की 
ii. उनकी थोड़ी सेवा की 

प्रश्न 14: रिक्त स्थान भरिए:

(क) विवेकानंद जी को लगा कि सबसे पहले गरीब को रोटी मिलनी चाहिए।
(ख) स्वामी रामकृष्ण जी ने नरेंद्र की जिज्ञासा को देखकर उन्हें अपना शिष्य मान लिया।

तो ये थे Swami Vivekanand Questions & Answers स्वामी विवेकानंद प्रश्न और उत्तर