Pritoriya Jail Se Questions & Answers प्रिटोरिया जेल से प्रश्न और उत्तर

This article will share Pritoriya Jail Se Questions & Answers प्रिटोरिया जेल से प्रश्न और उत्तर

पिछले पोस्टों में मैंने Vriksh Aur Pakshi, Doctor Bhimrao Ambedkar और Dhay Maa Panna के Questions & Answers शेयर किए हैं तो आप उसे भी चेक कर सकते हैं।

Pritoriya Jail Se Questions & Answers प्रिटोरिया जेल से प्रश्न और उत्तर

शब्दार्थ 

  • ख्याल – विचार 
  • निर्वाह – गुजारा 
  • पूर्ण रूप से – पूरी तरह से 
  • उपयोगी – लाभदायक 
  • असंतोष – तसल्ली न होना 
  • बोध – जानकारी 
  • सदगुण – अच्छे गुण 
  • नियमितता – नियम के अनुसार 
  • मूल्यवान – कीमती 

प्रश्न 1: यह पत्र किसने, किसे और कहाँ से लिखा?

उत्तर: यह पत्र मोहनदास करमचंद गाँधी ने अपने पुत्र मणिलाल गाँधी को प्रिटोरिया जेल (दक्षिण अफ्रीका) से लिखा है।

प्रश्न 2: गाँधी जी को जेल में कितने पत्र लिखने और प्राप्त करने का अधिकार था?

उत्तर: गाँधी जी को प्रतिमास एक पत्र लिखने और एक पत्र प्राप्त करने का अधिकार था।

प्रश्न 3: इस पत्र में गाँधी जी ने किस बात पर विशेष ज़ोर दिया है?

उत्तर: गाँधी जी ने तीन बातों पर विशेष ज़ोर दिया है – अपनी आत्मा का, अपने आपका और ईश्वर का सच्चा ज्ञान प्राप्त करना। 

प्रश्न 4: संस्कृत और गणित पर छोटी उम्र में ध्यान क्यों देना चाहिए?

उत्तर: ये दोनों विषय बड़ी उम्र में सीखना कठिन है।

प्रश्न 5: पत्र में गाँधीजी ने अपने बारे में क्या बताया है?

उत्तर: पत्र में गाँधीजी ने अपने बारे में बताया है कि मैं यहाँ पूर्ण रूप से शांति में हूँ।

प्रश्न 6: ‘बाकौन थी? गाँधीजी नेबाके बारे में क्या पूछा है? इससे क्या पता चलता है?

उत्तर: ‘बा’ गाँधीजी पत्नी कस्तूरबा गाँधी थी। गाँधीजी ने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा है। इससे यह पता चलता है कि गाँधी जी को देश के साथ-साथ अपने परिवार की ज़िम्मेदारियों का अहसास था।

प्रश्न 7: गाँधीजी के अनुसार सच्ची शिक्षा क्या है?

उत्तर: गाँधीजी के अनुसार केवल अक्षर ज्ञान ही सच्ची शिक्षा नहीं है। सच्ची शिक्षा तो चरित्र-निर्माण और कर्तव्य का बोध है।

प्रश्न 8: गाँधीजी के अनुसार कौन-सी तीन बातें महत्वपूर्ण हैं?

उत्तर: गाँधीजी के अनुसार अपनी आत्मा का, अपने आपका और ईश्वर का सच्चा ज्ञान प्राप्त करना महत्वपूर्ण हैं।

प्रश्न 9: गाँधीजी अपने पुत्र को क्या बनाना चाहते थे? इसके लिए उन्होंने क्या-क्या हिदायतें दी?

उत्तर: गाँधीजी अपने पुत्र को किसान बनाना चाहते थे इसके लिए उन्होंने हिदायतें दी कि खेत में घास और गड्ढे खोदने में पूरा समय देना तथा सभी औज़ारों को साफ़ एवं सुव्यवस्थित रखना।

प्रश्न 10: गाँधीजी ने प्रार्थना का सबसे अच्छा समय कब बताया है?

उत्तर: सूर्योदय से पहले उठकर प्रार्थना करना गाँधीजी ने प्रार्थना का सबसे अच्छा समय बताया है।

प्रश्न 11: इस पत्र से गाँधीजी की किस-किस विशेषता पर प्रकाश पड़ता है?

उत्तर: इस पत्र को पढ़कर हमें गाँधीजी बहुत सुलझे हुए व्यक्ति प्रतीत हुए। वे नियमों का पालन करने वाले और सीधा सरल जीवन जीने वाले थे। वे शिक्षा  व्यावहारिक रूप जानते थे।

प्रश्न 12: रिक्त स्थानों की पूर्ति करो:

1. विशेष कुछ कहने का अधिकार मुझे नहीं है।
2. संसार में तीन बातें बहुत महत्वपूर्ण है।
3. सूर्योदय से पहले उठकर प्रार्थना करना बहुत ही अच्छा है।
4. खेत में घास और गड्ढ़े खोदने में पूरा समय देना।
5. गणित और संस्कृत विषय बड़ी उम्र में सीखना कठिन है।

यह थे Pritoriya Jail Se Questions & Answers प्रिटोरिया जेल से प्रश्न और उत्तर।